Ads Right Header

Advt

सपनों की उड़ान का आगाज, एलन में एडमिशन शुरू

  


कोटा, राजस्थान, भारत

  • एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में नए सत्र की प्रवेश प्रक्रिया शुरू
  • इंजीनियरिंग, मेडिकल प्रवेश परीक्षा के साथ-साथ कॉमर्स व प्रशासनिक भर्ती परीक्षाओं में भी कोचिंग

 

विद्यार्थी हो या अभिभावक, सबसे बड़ा सपना जीवन में सफलता का होता है, जिसकी शुरुआत कॅरियर निर्माण के साथ होती है। अपने कॅरियर के सपने को पूरा करने के लिए एक शिक्षक, मार्गदर्शक, पथ प्रदर्शक और हर कदम पर साथ रहकर आगे बढ़ाने वाला मेंटोर जरूरी होता है। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट लाखों विद्यार्थियों के कॅरियर का परफेक्ट कोच है। एक ऐसा संस्थान जहां विद्यार्थियों का सपना पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास किए जाते हैं। यही कारण है कि देश के इंजीनियरिंग हो या मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए पहली पसंद एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट है।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट प्राइवेट लिमिटेड ने नए सत्र में एडमिशन्स की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही बैच की तिथियां भी घोषित की जा चुकी है। कक्षा 10 से 11वीं में जाने वाले और 12वीं तथा 12वीं उत्तीर्ण विद्यार्थियों के बैच जनवरी माह में शुरू होंगे। इसके अलावा बोर्ड कक्षाओं के बाद भी बैच शुरू होंगे। प्री नर्चर कॅरियर केयर फाउण्डेशन के कक्षा 6 से 10 तक के बैच अप्रेल-2023 के पहले सप्ताह से शुरू होंगे। एडमिशन इच्छुक विद्यार्थियों के लिए एलन स्कॉलरशिप एडमिशन टेस्ट (एसेट) 8 जनवरी 2023 को आयोजित किया जाएगा। इस टेस्ट के जरिए स्टूडेंट 90 प्रतिशत तक फीस में छूट प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही एलन में प्रवेश लेने पर दोहरे लाभ के रूप में अर्ली फी बेनिफिट भी दिया जा रहा है। 20 जनवरी तक प्रवेश लेने पर विद्यार्थियों को शुल्क में विशेष रियायत दी जा रही है। नए सत्र की प्रवेश प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही देश के लाखों विद्यार्थी एलन में एडमिशन को लेकर उत्साहित हैं। लगातार कॉल्स आ रहे हैं और विजिट शुरू हो चुकी है। जो विद्यार्थी बोर्ड क्लासेज में हैं, वे अपनी तैयारी में जुटे हैं और जो कक्षा 9 व 11 में है वे अपना एडमिशन तय कर रहे हैं, ताकि शुरुआती बैच में ही प्रवेश लेकर पढ़ाई जल्दी शुरू कर सकें। अधिक जानकारी के लिए https://bit.ly/ALLENASAT2023 पर क्लिक करें।

 

स्टूडेंट्स के कोटा आने को लेकर स्थानीय शहरवासियों से लेकर व्यापारियों और हर वर्ग में उत्साह है। छोटे थड़ी वाले से लेकर ऑटो रिक्शा चालक, हॉस्टल संचालक, मैस संचालक, डेयरी, फ्रूट-ज्यूस, चाय-कॉफी, स्टेशनर्स वाले सभी खुश हैं और स्टूडेंट्स व पेरेन्ट्स की आवभगत की तैयारी में है।

 

मजबूत होता सिस्टम

शिक्षा की काशी कोटा के सबसे बड़े संस्थान एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट व बोधि ट्री सिस्टम्स ने हाथ मिलाया है। बोधि ट्री सिस्टम्स ने एलन में 4500 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की है। यह निवेश कोटा के साथ-साथ एजुकेशन इंडस्ट्री में पूरे भारत और विशेषरूप से राजस्थान के लिए बहुत अच्छा माना जा रहा है। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि एलन व बोधि ट्री सिस्टम का जुड़ाव एलन ही नहीं कोटा कोचिंग के लिए बड़ा अध्याय साबित होगा, क्योंकि इससे कोटा कोचिंग पैटर्न को नई ऊंचाइयां मिलने वाली हैं। एलन तकनीक के क्षेत्र में और बेहतर काम कर रहा है। अब डिजिटल माध्यम से भी विद्यार्थियों को शिक्षा दे रहा है। 48 शहरों में 138 अध्ययन केंद्र भारत के साथ-साथ मिडिल ईस्ट में उपस्थिति एलन की प्रगति और मजबूती को दर्शाता है। गत 13 वर्षों में एलन के 18 स्टूडेंट्स ने जेईई व मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त की है।

 

50 हजार से अधिक छात्राएं

कोटा और एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में बेस्ट फैकल्टीज और बेस्ट स्टूडेंट्स के साथ सुरक्षित वातावरण भी है। यहां का माहौल स्टूडेंट्स फ्रेंडली है। कश्मीर से कन्याकुमहारी और पूर्वोत्तर से पश्चिम तक के स्टूडेंट्स यहां आकर कॅरियर बना रहे हैं। कोटा में देश के लगभग सभी प्रांतों से करीब 50 हजार से अधिक छात्राएं आकर अध्ययन करती हैं। घर से हजारों किलोमीटर दूर रहने वाली इन छात्राओं को यहां घर जैसा सुरक्षित माहौल उपलब्ध करवाया जाता है। पढ़ाई के साथ खान-पान का भी पूरा ध्यान रखा जाता है।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने भी सराहा

कॅरियर सिटी कोटा और एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के संयुक्त प्रयासों से कोटा की छवि अब कॅरियर के साथ केयर सिटी के रूप में भी विख्यात हो गई है। यहां सामान्य स्थितियों में तो विद्यार्थियों का ख्याल रखा ही जाता है, लेकिन विपरीत परिस्थितियों में भी कोटा और एलन ने कई उदाहरण प्रस्तुत किए हैं। कोविड में एलन ने स्थानीय प्रशासन, केन्द्र व राज्य सरकार के सहयोग से 50 हजार से अधिक स्टूडेंट्स को सुरक्षित व स्वस्थ घर पहुंचाया। कोटा में रहने वाले स्टूडेंट्स की भी पूरी तरह से देखभाल की। यही नहीं इससे पहले भी कोटा कोचिंग की गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई की हर स्तर पर तारीफ हो चुकी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ही कोटा को शिक्षा की काशी का नाम दिया। विभिन्न मंचों पर प्रधानमंत्री मोदी कोटा द्वारा बच्चों के कॅरियर बनाने की सराहना कर चुके हैं। एलन के निदेशक डॉ. गोविन्द माहेश्वरी ने बताया कि एलन में शिक्षा के साथ संस्कारों को भी प्राथमिकता दी जाती है। प्रयास यह रहता है कि स्टूडेंट डॉक्टर व इंजीनियर के साथ-साथ अच्छा इंसान भी बने। बच्चों के लिए यहां मोटिवेशनल सेशन और अध्यात्म से जुड़े कार्यक्रम करवाए जाते हैं जिससे वे जीवन में संघर्ष करना सीख सकें।

 

छोटी उम्र से शुरुआत

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की कॅरियर बनाने की शुरुआत छोटी उम्र से होने लगी है। एलन में अब कक्षा 6 से स्टूडेंट्स प्रवेश लेने लगे हैं और कॅरियर बनाने की तैयारी कर रहे हैं। एलन प्री-नर्चर कॅरियर फाउंडेशन (पीएनसीएफ) में कक्षा 6 से 10 की तैयारी करवाई जाती है। इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं के साथ-साथ नेशनल व इंटरनेशनल ओलम्पियाड, केवीपीवाय, एनटीएसई सहित अन्य परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाती है। कोटा के विभिन्न कोचिंग संस्थानों में प्री-नर्चर कक्षा 6 से 10 के करीब 10 हजार स्टूडेंट्स पढ़ाई कर रहे हैं। इसके साथ ही एलन इंटेलीब्रेन व अर्ली चाइल्डहुड डवलपमेंट प्रोग्राम के माध्यम से एचकेजी से कक्षा 8 तक के बच्चों के मस्तिष्क के विकास और बौद्धिक क्षमता बढ़ाने के लिए प्रायोगिक व खेल के आधार पर बच्चों को तैयार किया जाता है। एलन के निदेशक नवीन माहेश्वरी ने बताया कि बच्चों की छोटी उम्र से प्रतिभा को निखारा जाए तो बड़ा बदलाव लाया जा सकता है। एलन इसी दिशा में आगे बढ़ रहा है। इससे इंटरनेशनल ओलम्पियाड में भारतीय स्टूडेंट्स का प्रदर्शन बेहतर हुआ है।

 

हर घर में होगा एलन

एलन के निदेशक राजेश माहेश्वरी ने कहा कि एलन हर स्टूडेंट का कॅरियर बनाने का सपना रखता है। इसके लिए आगामी वर्षों में हर तरह की कोचिंग करवाई जाने की तैयारी भी चल रही है। हम चाहते हैं कि जो भी स्टूडेंट कॅरियर बनाने की सोचें तो उसके सामने एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट एक विकल्प के तौर पर रहेगा। हर क्षेत्र में श्रेष्ठ फैकल्टीज व श्रेष्ठ संसाधन उपलब्ध करवाकर श्रेष्ठ परिणाम देने के प्रयास किए जाएंगे। एलन हर घर तक पहुंचने के लिए अब ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन के विकल्प के रूप में भी स्टूडेंट्स के साथ है। कहीं भी कभी भी स्टूडेंट्स की पढ़ाई के लिए एलन तैयार रहेगा। शिक्षा को सुलभ और हर छात्र तक पहुंच के लिए निरन्तर प्रयास किए जाएंगे।

 

8 स्टूडेंट्स से हुई थी कोटा कोचिंग की शुरुआत

कोटा कोचिंग को आज जिस रूप में देखा जा रहा है इसका बीजारोपण 1988 में शिक्षक राजेश माहेश्वरी द्वारा किया गया। साढ़े तीन दशक पहले अन्य शहरों की तरह कोटा में भी तब ट्यूशन का कल्चर था। इस दौरान राजेश माहेश्वरी स्टूडेंट्स का समय बचाने और उनकी परेशानियों को कम करने के उद्देश्य से सभी विषयों की कोचिंग एक ही छत के नीचे करने का नवाचार किया। कोटा में 1988 में पहली बार राजेश माहेश्वरी द्वारा सभी विषयों की कोचिंग एक जगह पर देने के लिए एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की स्थापना की। पहले दिन मात्र 8 स्टूडेंट्स की क्लास हुई। सभी विषयों की पढ़ाई एक जगह होने से समय की बचत हुई और स्टूडेंट्स को पढ़ाई के लिए समय मिलने लगा, इससे परिणाम भी अच्छे आने लगे। आज 34 वर्षों की मेहनत के बाद कोटा कोचिंग देश ही नहीं दुनिया में विख्यात है।

 

कॉमर्स व प्रशासनिक सेवा व अन्य परीक्षाओं की भी तैयारी

कोटा में मेडिकल व इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं के साथ-साथ अब कॉमर्स विषय की प्रवेश परीक्षाओं के लिए भी कोचिंग शुरू हो गई है। यहां स्टूडेंट्स कॉमर्स की कोचिंग के लिए भी आने लगे हैं। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट ने कॉमर्स कॅरियर बनाने की इच्छा रखने वाले स्टूडेंट्स का भी मार्गदर्शन करना शुरू कर दिया है। इसके साथ ही एलन एस प्रशासनिक भर्ती परीक्षाओं की भी तैयारी शुरू कर दी गई है। इसमें आईएएस, आरएएस, आरजेएस, आईपीमेट, कैट परीक्षाओं की तैयारियां भी करवाई जा रही है। एलन की इस घोषणा के साथ कॉमर्स में कॅरियर बनाने के इच्छुक विद्यार्थियों में उत्साह है। कॉमर्स के बैच कोटा व मुम्बई स्थित स्टडी सेंटर्स पर बेच संचालित हो रहे हैं। एलन कॉमर्स डिवीजन द्वारा कक्षा 11, कक्षा 12, सीए फाउंडेशन कोर्स तथा सीएस एक्जीक्यूटिव एंट्रेंस टेस्ट की तैयारी करवाई जाएगी। कोटा व मुम्बई के बाद जहां-जहां एलन के सेंटर्स हैं, वहां-वहां कॉमर्स डिवीजन शुरू होंगे। इसी तरह प्रशासनिक भर्ती परीक्षाओं के लिए एलन एस के माध्यम से जयपुर में तैयारी करवाई जा रही है।

 

ओवरसीज में कोटा कोचिंग

कोटा कोचिंग अब सिर्फ देश में इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी तक ही सीमित नहीं है। देश के बाहर भी कोटा कोचिंग की खुशबू फैल रही है। एलन द्वारा ओवरसीज में शुरू की गई क्लासरूम कोचिंग में भी बेहतर उत्साह नजर आ रहा है। विदेशों में रहने वाले भारतीय मूल के परिवारों के स्टूडेंट्स के साथ-साथ विदेशी छात्र जो देश के शिक्षण संस्थानों में पढ़ने के इच्छुक होते हैं, वे ओवरसीज में कोटा कोचिंग के स्टडी सेंटर्स में एडमिशन ले रहे हैं। एलन ओवरसीज द्वारा मिडिल ईस्ट में अध्ययन केन्द्र की शुरुआत की गई है। इसमें यूएई के दुबई, अबूधाबी, शारजहां तथा दोहा के कतर में स्टडी सेंटर्स संचालित हैं तथा बहरीन, कुवैत, ओमान, साउदी अरेबिया व नेपाल में ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से शिक्षा दी जा रही है। विदेश में भी एलन में पढ़ने के लिए स्टूडेंट्स उत्सुक नजर आ रहे हैं। सभी जगह मेडिकल व इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम के लिए बड़ी संख्या में एडमिशन हो रहे हैं।

 

विदेशी विश्वविद्यालयों के प्रवेश परीक्षा की तैयारी

कोटा में अब ऑक्सफोर्ड, कैम्ब्रिज, एमआईटी, टोरंटो जैसे दुनिया के श्रेष्ठ शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए कोचिंग दी जाने लगी है। यहां एलन ने एलन ग्लोबल स्टडीज की शुरुआत की है। इसके परिणाम भी अच्छे आने लगे हैं। इसके बाद कोटा कोचिंग की पढ़ाई अब सिर्फ भारतीय मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेजों की प्रवेश परीक्षा की तैयारी तक ही सीमित नहीं है। इससे कई अधिक विदेशी विश्वविद्यालयों में स्टूडेंट्स के प्रवेश भी सुनिश्चित कोटा कोचिंग से हो रहे हैं। यहां सेट, एक्ट, आईलिट्स, टॉफेल, जीमेट की तैयारी करवाई जाती है। दुनिया की टॉप रैंकिंग यूनिवर्सिटीज में एलन ग्लोबल स्टडीज डिवीजन के स्टूडेंट्स प्रवेश प्राप्त कर रहे हैं। एलन के चित्रांग मूर्डिया, स्तुति खांडवाला का एडमिशन एमआईटी अमरीका में हुआ। इसके अलावा ऑक्सफोर्ड, कैम्ब्रिज, टोरंटो, वॉरविक, पोर्डू, सिंगापर, पेनीसिलवेनिया, मेलबोर्न सहित कई यूनिवर्सिटी में यहां के स्टूडेंट्स का चयन हुआ है।

 

हर क्षेत्र में श्रेष्ठ परिणाम

कोटा कोचिंग के जेईई व मेडिकल के क्षेत्र में श्रेष्ठ परिणाम रहे हैं। यहां के विद्यार्थी जेईई-नीट में गत 13 वर्षों में 18 बार आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त कर चुके हैं। नीट-2022 में एलन की तनिष्का ने आल इंडिया टॉप किया। जेईई-एडवांस्ड 2021 के आल इंडिया रिजल्ट्स में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के क्लासरूम कोचिंग छात्र मृदुल अग्रवाल ने आईआईटी प्रवेश परीक्षा में आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त की है। पिछले 8 वर्षों में यह चौथी बार है जब एलन स्टूडेंट आल इंडिया टॉपर रहा है। इससे पूर्व सत्र 2014 में चित्रांग मूर्दिया, 2016 में अमन बंसल और 2019 में कार्तिकेय गुप्ता ने आल इंडिया रैंक-1 हासिल की थी। इसी तरह नीट-2021 में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के 5 स्टूडेंट्स ने एआईआर टॉप-5 में स्थान बनाया है तथा 16 स्टेट्स में टॉप किया है। वर्ष 2020 में एलन के शोएब ऑफताब ने 720 में से 720 अंक प्राप्त कर आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त की थी। इससे पूर्व एम्स-2017 के परिणामों में सभी टॉप-10 रैंक पर एलन स्टूडेंट्स रहे।

 

नवाचार भी हो रहे कोटा में

कोचिंग क्षेत्र में कोटा में लगातार नवाचार भी हो रहे हैं। यहां के रिलायबल इंस्टीट्यूट की एचओडी द्वारा आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस एवं मशीन लर्निंग के आधार पर स्टूडेंट्स की परफोरमेंस और उनकी क्षमता को परखा जा रहा है। इसके अलावा स्टूडेंट्स को किस प्रकार बेहतर भविष्य के लिए तैयार किया जा सकता है, उनकी समस्याएं क्या है और उन्हें हल करने में कितना समय लगता है, यह सब अध्ययन करते हुए स्टूडेंट्स को बेहतर पढ़ाई और प्रश्न पत्र हल करने के बारे में समझाया जा रहा है। एआई के आधार पर पेपर एण्ड स्टूडेंट एनालिसिस को देशभर के पेरेन्ट्स भी सराह रहे हैं।

 

इन शहरों में है एलन

एलन राजस्थान में कोटा के साथ दिल्ली, कोलकाता, जयपुर, जोधपुर, भीलवाड़ा, सीकर, रावतभाटा, तारानगर, तमिलनाडु में चैन्नई, कोयंबटूर, मध्यप्रदेश के भोपाल, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, महाराष्ट्र के मुम्बई, नागपुर, पुणे, नांदेड़, नासिक, ओडिशा के भुवनेश्वर, पंजाब के मोहाली, बठिण्डा, अमृतसर, आंध्रप्रदेश के तिरूपति, आसाम के गुवाहाटी, पश्चिम बंगाल के कोलकाता, दुर्गापुर, सिलिगुड़ी, छत्तीसगढ़ के रायपुर, बिलासपुर, गुजरात के अहमदाबाद, राजकोट, सूरत, वडोदरा, हरियाणा के पचकुला, रोहतक, हिसार, झारखंड के रांची, कर्नाटक के बैंगलुरु, मैंगलुरू, मैसुर, केरल के कोच्चि, केन्द्रशासित प्रदेशों में जम्मू, चंडीगढ़, पुड्डुचेरी, श्रीनगर, उत्तराखंड के देहरादून में स्टडी सेंटर्स हैं। इसके साथ ही महाराष्ट्र के बुल्धाना, राजस्थान के बूंदी, झुंझुनूं, तमिलनाडु के पवाई में स्कूल इंटीग्रेडेट प्रोग्राम संचालित है।

 

हर घर एलन

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के संस्थापक निदेशक राजेश माहेश्वरी द्वारा हर घर अभियान शुरू किया गया है। इसके तहत वर्ष 2030 तक 2.5 करोड़ विद्यार्थियों को एलन से जोड़ा जाएगा। इसके लिए प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। बड़ी संख्या में विद्यार्थियों का रुझान भी एलन की तरफ है। एलन लगातार अपने लक्ष्य की तरफ बढ़े इसके लिए ईमानदारी से प्रयास भी किए जा रहे हैं।

 

टैलेंटेक्स, एलन चैम्प व एसेट

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की ओर से प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने के लिए सामाजिक सरोकार के तहत विभिन्न कार्य भी किए जाते हैं। इसमें टैलेंटेक्स के माध्यम से कक्षा 5 से 10 के लिए देशभर में प्रतियोगी परीक्षा का आयोजन करवाया जाता है, जिसमें श्रेष्ठ परिणामों के आधार पर नकद पुरस्कार व प्रवेश में स्कॉलरशिप दी जाती है। इसी तरह एलन चैम्प में बच्चों की अकेडमिक उपलब्धियों के आधार पर उन्हें पुरस्कृत किया जाता है। 90 प्रतिशत तक स्कॉलरशिप दी जाती है। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट द्वारा विद्यार्थियों को प्रतिभा के आधार पर शुल्क में रियायत भी दी जाती है। इसके लिए एडमिशन के समय टेस्ट लिया जाता है। एडमिशन स्कॉलरशिप एडमिशन टेस्ट (ए-सेट) के रिजल्ट के आधार पर 10 से 90 प्रतिशत तक फीस में रियायत दी जाती है।

 

सामाजिक सरोकार

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट विद्यार्थियों के सपने पूरे करने के साथ-साथ सामाजिक सरोकार में भी आगे रहता है। आशा स्कीम के माध्यम से जहां सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों को निशुल्क शिक्षा दी जा रही है। आशा स्कीम के तहत राजस्थान, हरियाणा, मध्यप्रदेश सहित कई प्रांतों में सरकारी स्कूल की प्रतिभाओं का निशुल्क मार्गदर्शन किया जा रहा है। वहीं सेना में सेवारत और सेवानिवृत्त कार्मिकों के बच्चों को विशेष रियायत दी जाती है। शहीदों के बच्चों और कोविड में अपने परिजनों को खो देने वाले बच्चों को भी एलन द्वारा निशुल्क शिक्षा दी गई। कई ऐसे निर्धन परिवारों के बच्चे भी रहे जिन्हें भोजन व आवास भी एलन द्वारा उपलब्ध करवाए गए। इसके साथ ही राजस्थान के आदिवासी विभाग के साथ मिलकर आदिवासी जनजाति विद्यार्थियों को निशुल्क शिक्षा दी जा रही है।

 

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट

जेईई एडवांस्ड, जेईई-मेन, प्री-मेडिकल नीट-यूजी, सीए, सीएस, क्लास 6 से 10, केवीपीवाय, एनटीएसई, प्री-नर्चर एंड कॅरियर फाउंडेशन (कक्षा 6 से 10, एनटीएसई और ओलंपियाड), की तैयारी के लिए भारत का प्रमुख कोचिंग संस्थान है। एलन का फोकस स्टूडेंट्स के नॉलेज और कॉन्सेप्ट के फाउंडेशन को मजबूत करना है। एलन स्टूडेंट्स को प्रतियोगी परीक्षाओं और कक्षा 12 पाठ्यक्रम की तैयारी के लिए बेस्ट प्लेटफार्म उपलब्ध करवाता है। स्थापना से अब तक 27 लाख स्टूडेंट्स एलन से मार्गदर्शन ले चुके हैं। वर्तमान में 11 हजार से अधिक सदस्यों का परिवार है, जिसमें आईआईटीयन, डॉक्टर्स, सीए व सीएस प्रोफेशनल्स फैकल्टीज के रूप में सेवाएं दे रहे हैं। यहां प्रदान किए जाने वाले अकेडमिक सपोर्ट और पर्सनल केयरिंग के माध्यम से स्टूडेंट्स अपने सपने पूरे करते हैं। एलन के दृढ़ संकल्प, ईमानदारी, प्रामाणिकता, अखंडता, प्रेरणा, सामाजिक सरोकार, सामूहिक सोच, नैतिक दायित्व, समाज और पर्यावरण के लिए चिंता के मूल मूल्य दूसरों से अलग बनाते हैं। यहां संस्कार से सफलता तक की सोच के साथ आगे बढ़ा जाता है। एलन एक्स्पर्ट फैकल्टीज और अनुभवी सिस्टम के साथ स्टूडेंट्स की सफलता के लिए हर संभव प्रयास करने के लिए समर्पित और संकल्पित हैं। छात्रों को उनके सामाजिक, सांस्कृतिक, शैक्षणिक और सर्वांगीण विकास के लिए लगातार प्रयास होते हैं। वेबसाइट www.allen.ac.in हेल्पलाइन-0744-23556677, 0744-2757575

Previous article
Next article

Ads Post 1

Advt

Ads Post 2

Ads Post 3

Advt

Ads Post 4